Zindagi ka Sach Shayari | सच्ची बातें शायरी 2023


 


Zindagi ka Sach Shayari, सच्ची बातें शायरी 2023 हमारे जीवन के विभिन्न पहलुओं जैसे खुशी,दुख, प्यार, नफरत ,गुस्सा, निराशा, उम्मीदें आदि महत्वपूर्ण  पहलुओं को दर्शाती है। इसलिए दोस्तों, आज की पोस्ट  में हम आपके साथ शेयर कर रहे हैं।
जिंदगी शायरी हिंदी में
सच्ची बातें शायरी 2023 
दो लाइन जिंदगी शायरी
Zindagi Shayari in Hindi
जिंदगी पर स्टेटस शायरी


दो लाइन जिंदगी शायरी


Two line Zindagi ka Sach Shayari | जिंदगी का सच शायरी


वक्त के साथ साथ इंसान भी बदल गया 
जिससे उसे बल मिला, उसी को छल गया

Waqt Ke sath-sath Insaan bhi badal gaya
Jisse use Bal Mila usi ko chal Gaya


***


गर कोई तुम्हें अपना दुखड़ा सुनाए 
तो समझ लेना कि वो तुम्हें अपना हमदर्द मानता है


Agar koi tumhen apna dukhda sunayen
To samajh Lena ki vah tumhen apna humdard manta hai


***

Do Line ki jindagi shayari  | jindagi shayari 2 line | shayari Metro



दर्द को जिंदगी बना लोगे 
तो जिंदगी दर्द ही देगी


Dard ko jindagi bana loge
To jindagi dard hi degi



***



'जिसे जितनी शिद्दत से चाहोगे, दर्द भी उतना देगा'
इतनी छोटी सी बात हमें अब समझ आई


'Jise jitni shiddat se chahoge, Dard Bhi utna dega'
Itni chhoti Si baat hamen ab samajh aayi



***



विश्वासघात कर यूं फिसल जाओगे
सोचा न था कि इतना बदल जाओगे


Vishwasghat kar Yun fisal jaaoge
Socha Na tha Ki itna Badal jaaoge



***

जिंदगी का सच शायरी-



दो लाइन की जिंदगी शायरी |  जिंदगी शायरी दो लाइन  | शायरी मेट्रो




खुदा सा माना था तुम्हें
तुमने जता दिया कि खुदा नहीं मिलता


Khuda sa mana tha tumhen
Tumne jata Diya ki Khuda Nahin milta



***


पूछ लिया करो हमसे हमारी उदासी की वजह
मुस्कुराने की वजह तो सब पूछ लिया करते हैं


Poochh liya karo humse hamari udaasi Ki vajah 
Muskurane ki vajah to sab poochh liya karte Hain



***



जिंदगी शायरी दो लाइन


आसान नहीं होता रिश्तों को समेटना
खुद बिखरना पड़ता है पास लाने के लिए




Aasan Nahin Hota rishto ko sametna
Khud bikharna padta hai paas laane ke liye


***



दिल जोड़ने वाले ही अक्सर दिल तोड़ देते हैं
किसी की फितरत को कोई क्या जानेगा



Dil jodne Wale hi Aksar Dil Tod dete Hain
Kisi Ki fitrat ko koi kya Jaanega


***



Do Line ki Zindagi ka Sach Shayari | जिंदगी का सच शायरी


मुंह फेर लेने में तो दुनिया माहिर है
साथ नहीं खड़ी होती कभी, यह तो जगजाहिर है

Muh Fer Lene mein To Duniya mahir hai
Sath Nahin khadi hoti Kabhi, yah to Jag jahir hai



***





Four line Zindagi ka Sach Shayari | जिंदगी का सच शायरी


यहां बिना मतलब के कोई भाव नहीं देता
सिर ओखली में डाले बिना कोई पाव नहीं देता
गालियां या तालियां,ये तुम्हारी तकदीर है
बिना फल लगे पेड़ को कोई घाव नहीं देता

Yahan Bina matlab ke Koi bhav Nahin deta
Sir okhali mein Dale Bina Koi paav Nahin deta
Galiyan ya taliyan, ye tumhari takdeer Hai
Bina fal Lage ped ko koi ghaav Nahin deta

***





 Zindagi Shayari in Hindi 


Zindagi ka Sach Shayari | जिंदगी का सच शायरी


मौसम की तरह ही इंसान बदल रहा है
अपने दुख से ज्यादा किसी के सुख से पिघल रहा है

बेजान रिश्ते, बेपनाह ख्वाहिशें, बेलगाम जिंदगी 
बस इसी छलावे-दिखावे की दुनिया में उछल रहा है

स्वागत करता है घुटनों पर बैठकर पैसे-इज्जत वालों का
जो कुर्सी पर बैठकर कितनों के सपने कुचल रहा है

हर तरफ नफरत की आग में जल रहा है आदमी
चुप बैठा हुआ शायर भी कुछ कहने को मचल रहा है

 



mausam ki tarah hi insaan badal raha hai
apne dukh se jyada kisi ke sukh se pighal raha hai

bejaan rishte, bepanaah khvaahishen, belagaam jindagi 
bas isi chhalave-dikhave ki duniya me uchhal raha hai

swaagat karata hai ghuṭano par baiṭhkar paise-ijjat walo ka
jo kursi par baiṭhkar kitno ke sapne kuchal raha hai

har taraf nafrat ki aag me jal raha hai aadmi
chup baiṭha hua shayar bhi kuch kahane ko machal raha hai



***



Zindagi Ka Sach Shayari



Best 4 line Zindagi Shayari



4 Line ki WhatsApp Zindagi ka Sach Shayari | जिंदगी का सच शायरी


 


गलतियां नहीं करेंगे तो अनुभव कहां से लाएंगे
अनुभव नहीं आएंगे तो सीख कहां पाएंगे
सीख नहीं पाएंगे तो अज्ञानी कहे जाएंगे
अज्ञानी कहे जाएंगे, तो गलतियां दोहराएंगे

Galtiyan Nahin karenge to Anubhav kahan se layenge 
Anubhav Nahin aaenge to Seekh kahan payenge 
Seekh Nahin payenge to agnani Kahe jayenge 
Agnani Kahe jayenge to galtiyan dohrayenge 



***


जिंदगी शायरी हिंदी में


जिंदगी एक सच है, हकीकत है चाहे इसमें कितनी ही कड़वाहट, परेशानियां क्यों न हो। हमारा हर एक पल जुड़कर दिन, हफ्ते ,महीने ,साल बन जाता है जो हमारी जिंदगी का महत्वपूर्ण समय होता है। यह पल देखते ही देखते गुजरने लगते हैं। इसमें हम कितने उतार-चढ़ाव, सुख- दुख, लाभ-हानि के रोजमर्रा के अनुभवों को समेटे हुए काम करते रहते हैं। किसी की जिंदगी का मकसद पूरा होता है तो कई लोग बिना अपनी शक्तियां जाने ही दुनिया से चले जाते हैं।


Real Zindagi ka Sach Shayari | जिंदगी का सच शायरी


जिंदगी ने कैसा दर्द, कैसा दगा दिया
जान से प्यारा था जो, उसी को जुदा किया
आंसू इतने कि कब से हंसना भूल चुके
तन्हाई को अब हमने सीने से लगा लिया

Jindagi Ne kaisa Dard, kaisa daga Diya
Jaan se pyara tha Jo usi ko juda Kiya
Aansu Itne ki kab se hasna bhul chuke
Tanhai Ko ab Humne Seene Se Laga Liya




***



 जिंदगी पर स्टेटस शायरी

Zindagi ka Sach Shayari, सच्ची बातें शायरी 2023  पढ़कर आप अपनी जिंदगी से जुड़ाव महसूस करेंगे।



Zindagi ka Sach Shayari | जिंदगी का सच शायरी


गमों की थकान से 
चेहरे की मुस्कान बचा कर रखना 
यह नायाब तोहफा है खुदा का 
होठों पर सजा कर रखना

Gamo ki thakan Se 
chehre Ki muskan bacha kar rakhna 
Yah Naayab tohfa Hai Khuda Ka 
hothon per Saja Ke rakhna

***


Zindagi ka Sach Shayari |Real shayari about life

छोटी सी जिंदगी में बड़े-बड़े अरमान लिए फिरते हैं
इक छोटा सा मुकाम पाने के लिए कितनी ही बार उठते-गिरते हैं
अब यहां दुआ-सलाम नहीं चलता साहिब
कि लोग कुछ पाने की चाहत में कुछ भी कर गुजरते हैं


Chhoti Si jindagi mein bade-bade Armaan liye firte hain
Ek Chhota Sa mukaam paane ke liye kitni hi baar uthate girte Hain
Ab yahan dua-Salaam Nahin chalta Sahib
Ki log kuch paane Ki Chahat mein kuch Bhi kar gujarte Hain

***

Zindagi ka Sach Shayari|सच्ची बातें 2023 



True Shayari about life | जिंदगी का सच शायरी



बचाओ इतना, जितना 
काफी हो तुम्हारे लिए
मत सताओ इतना कि 
न माफी हो तुम्हारे लिए


Bachao itna jitna 
kaafi ho tumhare Liye 
mat sataao itna Ki 
Na maafi Ho tumhare Liye

***


Zindagi ka Sach Shayari | जिंदगी का सच शायरी



जलाकर किसी की उम्मीदों का शमां बुझाते नहीं है
तकलीफ उगल कर अपनी किसी से जताते नहीं हैं
मिट्टी का जिस्म है, जो अपने कल से है बेखबर
मियां इसलिए अपने वजूद पर इतना इतराते नहीं है


Jalakar kisi ki ummeedon ka shama bujhate nahin hai

Taklif ugal kar apani kisi se jataate nahin haini

Miṭṭii ka jism hai, jo apane kal se hai bekhabar

Miyaan isaliye apne vajuud par itana itaraate nahin hai 


***


खुदा की बंदगी में लगा जिंदगी अपनी
तेरी जिंदगानी सुधर जाएगी


Khuda Ke bandagi mein Laga jindagi apni Teri jindgani sudhar jayegi


***


                                    .......'अनु-प्रिया'







Zindagi ka Sach Shayari, सच्ची बातें 2023  पढ़कर आप अपनी जिंदगी से जुड़ाव महसूस करेंगे।
अगर आपको यह पसंद आती हैं तो आप इसे अपने मित्रों, रिश्तेदारों, सगे-संबंधियों से सोशल मीडिया के अनेक प्लेटफार्म जैसे Facebook, WhatsApp, Instagram, Twitter आदि पर अवश्य शेयर करें।

कोई टिप्पणी नहीं

Blogger द्वारा संचालित.