Heart Touching Gazals in Hindi | हिंदी में खूबसूरत गजल 2024

 

               



गजल, शायरी का एक अद्वितीय रूप है, जो आत्मा को छू लेती है। इसकी खूबसूरती को शब्दों में व्यक्त करना कठिन है, लेकिन इसकी अलौकिकता को महसूस किया जा सकता है। गजल दिल की गहराईयों से खेलती है और भावनाओं को संवादित करती है। उसकी अनूठी व अद्वितीय छंद, और गहराईयों में छिपी भावनाएं आदर्श शायरी को बनाती हैं। तो चलिए पढ़ते हैं-Heart Touching Gazals in Hindi | हिंदी में खूबसूरत गजल 2024

  1. तहजीब निकले
  2. बतलाओ तो 
  3. तकदीर 


          

 तहजीब निकले 


Heart Touching Gazals in Hindi हिंदी में खूबसूरत गजल 2024 दिल छू लेने वाली गजल dard bhari Gazal in Hindi  shayari metro


Heart Touching Gazals in Hindi | हिंदी में खूबसूरत गजल


आज की भाग-दौड़ भरी जिंदगी में ऐसा कोई भी इंसान नहीं है जिसको कोई तकलीफ़, कोई परेशानी, कोई समस्या न हो । हर व्यक्ति की अपनी अलग- अलग-अलग दर्द भरी कहानी है। कोई अपने जीवन की दिन-प्रतिदिन की समस्याओं से परेशान है तो कोई परिवार की, कोई अपने जीवन में सफल नहीं हो पा रहा, तो किसी को पैसों की बहुत जरूरत है, किसी को प्यार में धोखा मिला है। दोस्तों जिंदगी में आपने भी कभी न कभी ऐसे दर्द का अनुभव किया ही होगा। आज हम इस पोस्ट के माध्यम से आपको यही दिखाना चाहते हैं कि 

'दर्द जब दिल को छूता है तो ग़ज़ल बन जाती है,

होंठ कुछ नहीं कहते, आंखें सजल बन जाती है'।

तो प्रस्तुत है आपके समक्ष नई दर्द भरी शायरी गजल जिसे पढ़कर जरूर आप उससे जुड़ा महसूस करेंगे।



Heart Touching Gazals in Hindi | हिंदी में खूबसूरत गजल

तहजीब निकले



यूं ही नहीं खालीपन के इतने करीब निकले 

सब हुनरबाज, बस हम बदनसीब निकले ।।


इतना तो जान गए कि यहां मतलबी है सब 

पैसों के अमीर तक दिल के गरीब निकले ।।


गैरों पर हक भला खाक जता पाएंगे अब

दिल के अजीज वाले तक अपने रकीब निकले ।।


किससे बयां करूं अपनी दर्द, यह घुटन

इस भरी दुनिया में कोई ही हबीब निकले ।।


उपहार में मिले हैं कई रोग नए-नए

कई तो जाने-पहचाने कई तो अजीब निकले


लिखेंगे जब कभी अपनी जिंदगी के जख्म

बेहतर मुझसे शायद ही कोई अदीब निकले ।।


बहने दे 'अनु' खुद को इस गम की आंधी में

इसके झोंकों से ही शायद कोई तहजीब निकले ।।

                                                   .... 'अनु-प्रिया'


***


Heart Touching Gazals in Hindi | हिंदी में खूबसूरत गजल


   तलाओ तो


प्यार वह एहसास, वह भावना है जिसे शब्दों में बयां कर पाना बहुत कठिन है। कुछ को अपना प्यार चुटकियों में ही मिल जाता है और कुछ को बड़ी मशक्कत के बाद भी नहीं मिलता। इस ग़ज़ल में नायिका अपने प्यार का इजहार करने की हर संभव  कोशिश कर रही है । वह बड़ी उलझन में है कि करे तो क्या करे और एक गजल के माध्यम से अपनी सारी फिलिंग्स को बड़ी खूबसूरती के साथ नायक के समक्ष रख रही है।


Heart Touching Gazals in Hindi |dard bhari Gazal in Hindi दर्द भरी हिंदी गजल shayarimetro


Heart Touching Gazals in Hindi | हिंदी में खूबसूरत गजल :--


खफा-खफा से हो क्यों, समझाओ तो 
बड़े दिन बाद नजर आए जो,बतलाओ तो ।।

मैं आसमानी कोई ख्वाब नहीं, पता है मुझे
रोज सपनों में तेरे आऊं जो, बतलाओ तो ।।

जुनून नहीं है तुम्हे पाने का शान- ए -शौकत  गर
सुकून मिले पनाहों में मेरी जो, बतलाओ तो ।।

छोटी-मोटी बीमारी कोई ये नहीं लगती तेरी 
कोई रोग है भारी जो, बतलाओ तो ।।

मेरी एक उम्र चुरा रखी है, आखिर तुमने
थोड़ी और भी है बाकी जो, बतलाओ तो ।।

चलेगी डांट भी तेरी, हक जताओगे गर
गले हमारे लगो आके जो, बतलाओ तो ।।

अपनी आदत से मजबूर तुम, इतनी वाकिफ हूं
अपने रंग-ढंग सिखलाऊं जो, बतलाओ तो  ।।

बड़े जख्मी से लगते हो, कौन सा मरहम दूं
मेरी जान तक है हाजिर जो ,बतलाओ तो ।।

तेरी शर्तों पर ही अब तक के इम्तिहान दिए
कुछ अपनी मर्जी पे भी आऊं जो, बतलाओ तो ।।

चले कहां बिन कहे कुछ, बिन सुने मेरी 
हम अजनबी से ही रहे क्यों, बतलाओ तो 

हर दर्द बांट लूंगी, तेरे आंसुओं की कसम
बहेगें आंखों से 'अनु' के जो, बतलाओ तो ।।

                             .... 'अनु-प्रिया'

***


Heart Touching Gazals in Hindi | हिंदी में खूबसूरत गजल


तकदीर 



दोस्तों, प्यार में जितनी ख़ुशी मिलती है, दर्द भी उतना ही अधिक होता है। हमे ऐसा महसूस होता है जैसे हमारे अंदर कुछ पूरी तरह से टूट गया है और यह तब और भी बुरा होता है जब सामने वाले को इसकी परवाह नहीं होती कि हम कैसा महसूस करते हैं। अगर आपके साथ भी हुआ है तो तो यह गजल आपको अपने  एहसासों की याद दिला देगी।


Heart Touching Gazals in Hindi हिंदी में खूबसूरत गजल 2024 दिल छू लेने वाली गजल dard bhari Gazal in Hindi दर्द भरी हिंदी गजल shayarimetro



मेरे हाथों में तेरे साथ की लकीर न रही होगी

तुम्हें बांध कर रख लूं ऐसी जंजीर न रही होगी ।।


उलझे हुए ख्वाबों संग ही बस जी रहे थे आप

उन सपनों की कशमकश में मेरी कोई तस्वीर न रही होगी ।।


उम्मीदें खामखां बहुत तुझ रांझे से लगा रखी थी

 मुकम्मल इश्क-ए- दास्तां की मैं हीर न रही होगी ।।


जीत कर भी क्या करते प्यार की जंग भला 

हालत तेरी मेरे बिना तनिक भी अधीर न रही होगी ।।


खुद से ही बेखबर देखा है तुझको कई बार हमने 

तलब लगे मेरी, ऐसी तो मैं नीर न रही होगी ।।


खून में कलम डुबो लिखते थे कभी पाती पर तुम 

उन शब्दों की लिखावट शमशीर सी तो न रही होगी ।।


बेशक साथ चलना था दोनों को बहुत दूर तलक

तेरी मंजिल के कारवां की मैं राहगीर न रही होगी ।।


'अनु' की तकदीर तक मुस्कुराई अंजाम-ए-मोहब्बत देखकर

तेरे दिल के महल में रहे, शायद इतनी अमीर न रही होगी ।।


                                                     .... 'अनु-प्रिया'

                                     ***


दोस्तों!अगर आपको हमारे द्वारा लिखी गई  Heart Touching Gazals in Hindi | हिंदी में खूबसूरत गजल 2024 पसंद आती है तो इसे आप अपने मित्रों, रिश्तेदारों और सगे संबंधियों के साथ Facebook, Instagram WhatsApp, Pinterest, Twitter जैसे सोशल मीडिया के अनेक प्लेटफार्म पर शेयर कर सकते हैं और अपने कमेंट हमें कमेंट बॉक्स में लिख सकते हैं ताकि हमें आपसे कुछ प्रेरणा मिल सके। आपके सुविचार हमें और अच्छा लिखने की प्रेरणा देते रहेंगे

             





 




कोई टिप्पणी नहीं

Blogger द्वारा संचालित.